शुक्रवार, 12 दिसंबर 2014

मंत्री बनते ही 500 गुना बढ़ गई इनकी दौलत!

लखनऊ। 
मंत्री बनने के बाद गायत्री प्रसाद प्रजापति अरबपति हो गए। उनकी संपत्ति 500 गुना से ज्यादा हो गई है। लोकायुक्त के पास की गई एक शिकायत में कहा गया है कि भूतत्व और खनिकर्म मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति ने जब विधानसभा चुनाव में नामांकन किया था तब उनकी संपत्ति 1.81 करोड़ रुपये थी। लोकायुक्त ने भी इसकी पुष्टि शुक्रवार को कर दी।
मंत्री बनने के बाद उन्होंने 942.57 करोड़ रुपये की संपत्ति खड़ी कर ली है। साक्ष्य के रूप में अमेठी, लखनऊ सदर और मोहनलालगंज में प्रजापति द्वारा अपने, अपने परिवारीजनों, रिश्तेदारों और करीबियों के नाम से जमीन की रजिस्ट्री के दस्तावेज लगाए गए हैं। लोक आयुक्त कार्यालय ने शिकायत दाखिल किए जाने की पुष्टि की है।
शिकायत प्रतापगढ़ के ओम शंकर द्विवेदी ने की है। शिकायत के साथ हाईकोर्ट के वकील अजय प्रताप सिंह राठौर ने अपना वकालतनामा लगाया है। उन्होंने 1725 पन्ने साक्ष्य के रूप में पेश किए हैं। शिकायतकर्ता के वकील का दावा है कि अभी तो केवल अमेठी, लखनऊ सदर व मोहनलालगंज में ही खरीदी गई जमीनों की रजिस्ट्री शिकायत के साथ संलग्न की गई है। जैसे-जैसे अन्य संपत्तियों का पता चलेगा, लोक आयुक्त को जानकारी दी जाएगी।
इस मामले को लेकर गायत्री प्रसाद प्रजापति ने अपनी सफाई पेश की है। प्रजापति का कहना है कि ये उनके राजनैतिक विरोधियों की साजिश है। लोग दूसरों की संपत्ति को भी मेरी बताकर आरोप लगा रहे हैं। अगर ये आरोप सही साबित हुए तो मैं राजनीति से सन्यास ले लूंगा।
शिकायतकर्ता का कहना है कि प्रजापति खुद तो एपीएल कार्डधारक हैं ही, जिनके नाम उन्होंने जमीनें खरीदी हैं, उनमें से भी कई एपीएल कार्डधारक हैं जिनकी सालाना आय 24 हजार रुपये से ज्यादा नहीं होनी चाहिए। ऐसे में सवाल यह है कि इनके पास जमीनें खरीदने का पैसा कहां से आया?
लोक आयुक्त न्यायामूर्ति एन.के. मेहरोत्रा ने बताया कि भूतत्व एवं खनिकर्म मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति की शिकायत मिली है। दस्तावेज काफी हैं, अभी इसे देखा नहीं है। शिकायत का परीक्षण करने के बाद ही इस बारे में कु छ कहा जा सकता है।
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...